गोद ली बेटी से जिला कलक्टर डॉ. जोगाराम ने की मुलाकात

जयपुर। जिला कलक्टर डॉ. जोगाराम ने मंगलवार को अपनी गोद ली बेटी अमिता टाक को बोर्ड परीक्षा के दौरान पढाई के गुर दिए और साथ ही अन्य गतिविधियों में भी हिस्सा लेने को कहा। जयपुर जिला कलक्टर का पद संभालने के बाद डॉ. जोगाराम की अमिता से यह पहली मुलाकात थी। उन्होंने इस मुलाकात में अमिता से परीक्षा कब से है, आठवीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी कैसी है, कैसे पढती हो, भविष्य में क्या बनना चाहती है, जैसे विषयोें पर बात की। उन्होंने अमिता को सुबह जल्द 5 बजे उठकर पढाई करने को कहा जिससे ज्यादा अच्छी तरह चीजें याद रहेंगी। डॉ. जोगाराम द्वारा ‘‘आपको होस्टल और स्कूल में कोई समस्या तो नहीं है?’’ पूछने पर अमिता ने बताया कि होस्टल में गर्म पानी एवं रजाई की जरूरत है। इस पर डॉ. जोगाराम ने सम्बन्धित अधिकारियों को बात करने को कहा। जिला कलक्टर ने अमिता को चॉकलेट और मिठाइयां भेंट में दीं और कोई भी समस्या होने पर बताने को कहा। अमिता ने समोसे खाने की इच्छा जताई तो उसी समय उसके लिए समोसे मंगवाए गए।
आपकी बेटी योजना में जयपुर जिला कलक्टर द्वारा गोद ली गई बेटी अमिता 12 वर्ष की है और राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गांधी नगर द्वितीय जयपुर में आठवीं कक्षा में है और राजकीय सावित्री बाई फुले कन्या छात्रावास गांधी नगर में रहकर अध्ययन कर रही है। अमिता अब बड़ी होकर एसडीएम बनना चाहती है और उसकी इच्छा डांस सीखने की भी है। योजना की प्रभारी अधिकारी एसडीएम नॉर्थ ओम प्रभा भी इस मुलाकात में साथ थीं जो हर समय अमिता का परिवार के सदस्य की तरह ध्यान रखती हैं और अमिता भी कोई परेशानी होने पर उनसे साझा करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *