आवासन मण्डल वीकेंड होम के रूप में बेचेगा दस्तकार नगर के अधिशेष आवास

जयपुर। राजस्थान आवासन मण्डल द्वारा नायला स्थित महात्मा गांधी दस्तकार नगर योजना के अधिशेष आवासों को वीकेंड होम के रूप में आम जनता को बेचा जाएगा। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने यह जानकारी गुरुवार को पिंकसिटी प्रेस क्लब में आयोजित ‘प्रेस से मिलिए’ कार्यक्रम में दी। उन्होंने बताया कि राजधानी के नजदीक सुरम्य अरावली की पहाड़ियों के बीच स्थित महात्मा गांधी दस्तकार नगर योजना में अधिशेष आवासों को ओपन काउंटर सेल के द्वारा ‘पहले आओ, पहले पाओ’ के सिद्धांत के आधार पर होलिडे होम के रूप में बेचा जायेगा। इस योजना में ओपन एयर थियेटर, चौपाटी और एक्जीबिशन एरिया विकसित किया जाएगा। यह आवास 14 लाख 99 हजार रुपए की स्थिर कीमत पर बेचे जाएंगे।
अरोड़ा ने बताया कि इस वर्ष आवासन मण्डल की स्थापना के 50 वर्ष पूर्ण होने पर फरवरी माह में जयपुर में राज्य स्तरीय स्वर्ण जयंती समारोह आयोजित किया जाएगा। इसके साथ ही इस दौरान रक्तदान, अंगदान और नेत्रदान के कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। इस कार्यक्रम में मण्डल के उत्कृष्ट कार्मिकों को पुरस्कृृत किया जाएगा।
आवासन आयुक्त ने गत एक वर्ष में मण्डल द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियाें पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि आवासन मण्डल में लोगों का भरोसा लौटने लगा है, मण्डल की प्रीमियम सम्पत्तियां निर्धारित बिक्री मूल्य से 2 से 3 गुना कीमत पर बिक रही है। मण्डल ने 46 प्रीमियम सम्पत्तियों की नीलामी कर लगभग 50 करोड़ रुपए का राजस्व पृथक से अर्जित किया है। मण्डल द्वारा वर्षों से वीरान और बिना बिके आवासों को बेचना एक चुनौती पूर्ण काम था, हमने इन मकानों को बेचने की कार्ययोजना बनाई। इन मकानों को पहले ई-ऑक्शन कार्यक्रम के माध्यम से और अब बुधवार नीलामी उत्सव के माध्यम से बेचा जा रहा है। मण्डल अपने इस प्रयास में सफल हो रहा है। अभी तक लगभग 2300 आवासों को बेचकर 350 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित किया जा चुका है। मण्डल द्वारा ई-ऑक्शन कार्यक्रम में तो महज 35 दिनों में 1010 आवास बेचकर रिकॉर्ड कायम कर दिया। वर्षों से बिना बिके पड़ी मानसरोवर के झूलेलाल मार्केट की 59 दुकानों को लेने के लिये 462 लोगाें ने पंजीयन कराया। खास बात यह रही की यह समस्त दुकानें एक ही दिन में बिक गई। तिब्बतियों को भी झूलेलाल मार्केट में दुकानों का आवंटन कर उनकी वर्षों की स्थाई बाजार की समस्या का समाधान किया गया।
उन्होंने बताया कि अधिशेष सम्पत्तियों के विक्रय के साथ नई विकास परियोजना लाकर मण्डल के कार्यों को गति प्रदान की गई है। राजधानी जयपुर के मानसरोवर और प्रताप नगर में जयपुर चौपाटी बनाई जा रही है और इन्दिरा गांधी नगर विस्तार में खेल गांव प्रस्तावित है। जयपुर की प्रतिष्ठित आवासीय योजना मानसरोवर में आर.एच.बी. आतिश मार्केट का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें शोरूम के लिए भूखण्ड बेचे जाएंगे। इसके साथ ही जयपुर के प्रताप नगर में पहली बार ईको फ्रेण्डली कोचिंग हब बनाया जाएगा।
अरोड़ा ने मण्डल द्वारा चलाई जा रही स्वर्ण जयंती उपहार योजना की जानकारी देते हुए बताया कि यह योजना 22 जनवरी, 2020 को शुरू की गई है जो कि 19 फरवरी, 2020 तक चलेगी। उन्होंने बताया कि योजना अवधि में बुधवार नीलामी उत्सव, ओपन काउंटर सेल, खुली नीलामी में आवास या सम्पत्ति खरीदने वाले क्रेतागण पात्र होंगे। आयुक्त ने बताया कि स्कूटर की लॉटरी बुधवार नीलामी उत्सव के दिन सम्बंधित मंडल कार्यालय में निकाली जाएगी तथा इसके साथ ही बम्पर लॉटरी कम्प्यूटराईज्ड रेण्डम पद्धति से दिनांक 21 फरवरी, 2020 को सांय 4 बजे राजस्थान आवासन मंडल मुख्यालय पर निकाली जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *