मास्क और उचित दूरी के नियम को जन आन्दोलन बनाने में जुटेंगे संगठन

जयपुर। प्रदेश भर में गांधी जयन्ती के अवसर पर कोरोना के खिलाफ दो अक्टूबर से प्रारम्भ हो रहे जागरूकता जन आन्दोलन को जयपुर शहर में एक वास्तविक जन आन्दोलन बनाना है। इसमें जिला प्रशासन, विभिन्न विभाग, व्यापार मण्डल, धार्मिक-सामाजिक एवं युवा संगठनों के सम्मलित प्रयासों से हर शहरवासी को जोड़ा जाएगा और मास्क, सेनेटाइजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित कर कोरोना को हराने की भूमिका लिखी जाएगी। नगर निगम ग्रेटर के 150 और नगर निगम हैरिटेज के 100 वार्डों को पांच-पांच वार्डों की इकाइयों में बांटकर इस आन्दोलन को संचालित किया जाएगा। इसके दौरान एक माह तक मास्क लगाने, उचित दूरी रखने और भीड़भाड से दूर रहने के नियम की पालना अनिवार्य रूप से करने का संदेश दिया जाएगा।
संभागीय आयुक्त सोमनाथ मिश्र एवं जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने बुधवार को इस जनान्दोलन के सम्बन्ध में शहर के विभिन्न व्यापार मण्डलों, औद्योगिक एवं युवा संगठनों के पदाधिकारियों एवं विभागाेंं के प्रतिनिधियों की बैठक ली। सभी संगठनों ने इस जन आन्दोलन को समय की आवश्यकता बताते हुए इसका स्वागत किया एवं भरपूर सहयोग का आश्वासन दिया है।
संभागीय आयुक्त मिश्र ने “एक-एक को जगाना है, कोरोना को भगाना है” स्लोगन के साथ अपनी बात शुरू करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ प्रारम्भ होने वाले इस आन्दोलन में सभी संगठनों को लीडरशिप लेनी होगी। उन्हें अपने प्रभावक्षेत्र में इस तरह इसे संचालित करना होगा कि आम व्यक्ति दिल से जुड़कर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का स्वेच्छा से पालन करे।
जिला कलक्टर नेहरा ने भी कहा कि राजकीय प्रयास अपनी जगह हैं लेकिन संगठनों के सहयोग के बिना कोई भी आन्दोलन जन आन्दोलन नहीं बन सकता। इसके लिए जो भी संगठन जिस भी रूप में सहयोग कर सकता है, स्वागत योग्य है। कपडे़ के बने मास्क के रूप में सहयोग, ऑडियो संदेश के लिए ई-रिक्शा या प्रचार वाहन, माइिंकंग, प्रचारी सामग्री प्रकाशन एवं वितरण, समझाइश कई रूप में संगठन सहयोग कर सकते हैं। खासकर निम्न मध्यम आयवर्ग के क्षेत्रों, बस्तियों, चौखटियों पर मास्क वितरण से जन आन्दोलन को काफी मदद मिलेगी।
नगर निगम ग्रेटर के आयुक्त दिनेश यादव ने कोरोना से बचाव के लिए निगम द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी देते हुए बताया कि निगम के सभी हूपर्स, 100 ऑटो, प्रशिक्षित सिविल डिफेंस स्वयंसेवकों द्वारा माइकिंग जैसे प्रयास किए जा रहे हैं। अब जयपुर शहर बड़ा होने के कारण 5-5 वार्डों के समूह में इस जन आन्दोलन को संगठित रूप से संचालित किया जाएगा। नगर निगम हैरिटेज के आयुक्त लोकबन्धु ने भी इस जन आन्दोलन में सहयोग की अपील की।
सभी व्यापार मण्डलों एवं युवा संगठनों ने शहर में 2 अक्टूबर से प्रारम्भ हो रहे इस जन आन्दोलन में सहयोग का आश्वासन दिया। एनएसएस की जिला कॉर्डिनेटर डॉ. स्निग्धा ने नुक्कड़ नाटक एवं मास्क वितरण के लिए स्वयंसेवक तैयार करने, राधास्वामी सत्संग न्यास के समन्वयक ठाकुरदास ने आवश्यकतानुसार कपडे़ के मास्क उपलब्ध करवाने, जयपुर व्यापार मण्डल के अध्यक्ष ललित सिंह ने संगठन से जुडे सभी 100 व्यापार मण्डलों के क्षेत्र में माइकिंग से मास्क एवं साशल डिस्टेंसिंग के लिए जागरूकता कार्य, सीतापुरा इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन के महासचिव शोभित शर्मा एवं विश्वकर्मा औद्योगिक क्षेत्र एसोसिएशन के अध्यक्ष ताराचंद चौधरी ने अपने-अपने क्षेत्रों को इस कार्य के लिए गोद लेने की बात कही।
इसी प्रकार एयू स्मॉल फाइनेंस के प्रतिनिधि ने बैंक की ओर से मास्क उपलब्ध कराने एवं नुक्कड़ नाटकों के आयोजन जैसे सहयोग की बात कही। फोर्टी के कार्यकारी अध्यक्ष अरूण अग्रवाल ने मास्क, एम्बुलेंस, कोविड अस्पताल के रूप में सहयोग की पेशकश की।  जयपुर व्यापार मण्डल के संरक्षक रवि नैयर ने भी जन आन्दोलन में हर प्रकार से सहयोग का आश्वासन दिया। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रथम श्री इकबाल खान, अतिरिक्त जिला कलक्टर उत्तर बीरबल सिंह, शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि, सीआईआई के संदीप तेमानी, स्काउट्स एण्ड गाइड के बृज सुन्दर मीणा एवं अन्य कई संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *